Rashtriya Krishi Vikas Yojana। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 29 मई 2017 को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश के किसानो को कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों में विकास लाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी। यदि आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है या फिर इस योजना के बारे में अधिक जानकारी को प्राप्त करना चाहते है, तो आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से राष्ट्रीय कृषि विकास योजना से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, दस्तावेज एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। Rashtriya Krishi Vikas Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

Rashtriya Krishi Vikas Yojana 2022

केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2007 में Rashtriya Krishi Vikas Yojana का शुभारंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से कृषि और संबंधित क्षेत्रों में समग्र विकास को सुनिश्चित किया जाएगा। जिसके लिए राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश अपनी कृषि और संबंधित क्षेत्र की विकास गतिविधियों को चुन सकेंगे। इस योजना को 11वीं पंचवर्षीय योजना एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना में लागू किया गया था। 11वीं योजना के दौरान राज्यों में 22408.76 करोड़ रुपए जारी किए गए थे एवं 5768 परियोजनाओं को लागू किया गया था। 12वीं पंचवर्षीय योजना में इस योजना के अंतर्गत 3148.44 करोड़ रुपए जारी किए गए थे एवं फसल विकास, बागवानी, कृषि मशीनरीकरण आदि के क्षेत्रों में 7600 योजना को लागू किया गया था।

योजना का नाम राष्ट्रीय कृषि विकास योजना
आधिकारिक वेबसाइट https://rkvy.nic.in/
योजना शुरू की गयी भारत सरकार के अंतर्गत
योजना की शुरुआत वर्ष 2007
लाभार्थी किसान
उद्देश्य कृषि क्षेत्र का विकास करना
लाभ किसानों की आय में वृद्धि

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का उद्देश्य

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि किसानों को कृषि एवं संबंधित क्षेत्रों में विकास सुनिश्चित करवाया जाये। इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि होगी। जिससे की वह अपने परिवार वालों के साथ एक सुखी जीवन यापन व्यतीत कर सके। इस योजना के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि किसानों को सालाना वृद्धि दर प्राप्त हो रही है या फिर नहीं। इस योजना के माध्यम से किसानों को हर प्रकार की कृषी संबंधी परेशानियों से मुक्त किया जायेगा। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतगर्त किसानों की कृषि संबंधी आवश्यकताओं की पूरा करने के उद्देश्य से इस योजनाओं को शुरू किया गया था।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लाभ एवं विशेषताएं

केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास योजना को 29 मई 2017 में आरंभ किया गया है।
इस योजना के माध्यम से कृषि एवं समवगी क्षेत्रों में विकास सुनिश्चित किया जाएगा।
इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश में कृषि और उससे संबंधित संबंधित विभाग में विकास पैदा किया जाए
जिससे हमारे देश के किसानों की आय में वृद्धि हो सदा में अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकें।
Rashtriya Krishi Vikas Yojana के माध्यम से यह भी सुनिश्चित किया जाएगा के देश में उत्पादन का विकास हो सके।
इसके साथ-साथ स्थानीय जरूरतों फसलों और प्राथमिकताओं को बेहतर रूप से सुनिश्चित किया जाए।
इस योजना के माध्यम से महत्वपूर्ण फसलों में उपज अंतर को कम करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है |
कृषि विकास योजना के अंतर्गत कृषि के साथ-साथ विभिन्न कौशल विकास नवाचार और कृषि व्यवसाय मॉडल के माध्यम से युवाओं को सशक्त बनाया जाएगा
जिससे हमारे देश के किसानों की आय में वृद्धि होगी और घटकों का समग्र ढंग से समाधान करके उनका उत्पादन बढ़ाया जाएगा।
इस योजना के माध्यम से देश के सभी राज्यों में उनकी स्थानीय आवश्यकताओं के अनुसार उत्पादन प्रदान करना।
इसके साथ-साथ मशरूम की खेती एकीकृत खेती फूलों की खेती आदि के माध्यम से किसानों की आय को दोगुना करने पर ध्यान केंद्रित करना।

Read also : कृषि इनपुट अनुदान योजना । ऑनलाइन आवेदन

राज्य कृषि विकास योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी आदि

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में आवेदन कैसे करें ?

  1. सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  3. होम पेज पर आपको अप्लाई नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  4. इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  5. आपको एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  6. अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  7. इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  8. इस प्रकार आप राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

गाइडलाइंस डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह सभी लाभार्थी जो गाइडलाइंस डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

  • गाइडलाइंस डाउनलोड करने हेतु राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होमपेज खुलकर आएगा
  • होम पेज पर आपको About RKVY के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको Guidelines के विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपको Guidelines Completed के विकल्प का चयन करना है
  • चयन करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी।
  • इस फाइल में आप योजना से संबंधित गाइडलाइन प्राप्त कर सकते हैं।
  • तथा इसे डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं।

स्टेट नोडल ऑफिसर से संपर्क करे ?

लाभार्थी स्टेट नोडल ऑफिसर से संपर्क करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  1. स्टेट नोडल ऑफिसर से संपर्क करने हेतु आपको राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  2. वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  3. इस पेज पर आपको State Nodal Officer के विकल्प पर क्लिक करना है।
  4. क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  5. इस पेज पर आपको स्टेट नोडल ऑफिसर से संबंधित कांटेक्ट डिटेल्स प्राप्त हो जाएंगी।
  6. इन कांटेक्ट डिटेल्स के माध्यम से आप ऑफिसर से संपर्क कर सकते हैं।
FAQs : Rashtriya Krishi Vikas Yojana

Q-1. राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?
A- राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना official website : https://rkvy.nic.in/

Q-2. राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना क्या है?
A- राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना कृषि उत्पादन में होने वाले विभिन्न जोखिमों को ध्यान में रखते हुए कृषि मंत्रालय राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना (NAIS) को, किसानों को इन जोखिमों के विरुद्ध सुरक्षा प्रदान करने के लिए वर्ष 1999-2000 के रबी मौसम से, केन्द्रीय क्षेत्रक योजना के रूप में लागू कर रहा है।

Q-3. राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का प्रारंभ कब हुआ?
A- राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) 2007 में शुरू की गई थी। इसे कृषि में अपने निवेश को बढ़ाने के लिए राज्यों को प्रोत्साहित करने हेतु शुरु किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!